अच्छी और सच्ची बातें – Achi aur Sachi Baatein

अच्छी और सच्ची बातें – Achi aur Sachi Baatein

Achi aur Sachi Baatein Anmolgyanआनन्दमय जीवन की कला
अच्छी और सच्ची बातें हिंदी में
Achi aur Sachi Baatein in Hindi
  • क्षमा, गलती होने पर की जाती है, धोखा देने पर नहीं।
  • कोई भी व्यक्ति तीन कारणों से आपके पास आता है,
    एक तो प्रभाव, दूसरा भाव तथा तीसरा अभाव।
  • गलत सोच तथा गलत अंदाज, एक व्यक्ति को हर रिश्ते से अलग कर देती है।
  • संबंधों को जोड़ना तो एक कला होती है,
    लेकिन उसको निभाना एक साधना होती है।
  • व्यक्ति के व्यक्तित्व को दो शब्द परिभाषित करते है,
    धैर्य और दूसरा आपका व्यवहार।
  • जिसकी प्रेरणा से आपका चरित्र बदल जाय, वही आपका श्रेष्ठ गुरु है।
  • मनुष्य गलती करके उतना दुःखी नहीं होता,
    जितना की उसके बारे में सोच कर होता है।
  • “घमण्ड” बता देता है, व्यक्ति के पास “पैसा” कितना है?
    “संस्कार” बता देते हैं, उसका “परिवार” कैसा है?
  • “इंसान” की “बोली” बता देती है, “इंसान” कैसा है?
    लेकिन “बहस” बता देती है, उसके पास “ज्ञान” कितना है?
  • आंधी और क्रोध शांत होने के बाद बताते है, नुकसान कितना हुआ।
  • प्रार्थना आत्मा को, क्षमा रिश्तो को और परोपकार व्यक्ति की किस्मत को शुद्ध कर देता है।
  • हर एक व्यक्ति से सीखों क्योंकि हर कोई, सब कुछ नहीं जानता,
    लेकिन हर एक व्यक्ति कुछ न कुछ अवश्य जानता है।
  • जीवन को एक ढोलक के समान बनाना चाहिए,
    जो चोट सह के दूसरों को प्रसन्नचित कर देता है।
  • यदि व्यक्ति का समय अच्छा है तो गलती, मजाक लगती है।
    और समय खराब हो तो, मजाक भी गलती बन जाती है॥
  • एक कुरूप पुत्र भी अपने माता-पिता के लिए सर्वाधिक सुंदर होता है।
  • क्षमा का अर्थ होता है, जो गुजर गया उसे भूल जाओ।
  • परछाई से कभी मत डरिये, उसकी उपस्थिति का अर्थ हैं कि आस-पास कहीं रोशनी हैं।

– © अनमोल ज्ञान इंडिया –

About the author

AnmolGyan.com best Hindi website for Hindi Quotes ( हिंदी उद्धरण ) /Hindi Statements, English Quotes ( अंग्रेजी उद्धरण ), Anmol Jeevan Gyan/Anmol Vachan, Suvichar Gyan ( Good sense knowledge ), Spiritual Reality ( आध्यात्मिक वास्तविकता ), Aarti Collection( आरती संग्रह / Aarti Sangrah ), Biography ( जीवनी ), Desh Bhakti Kavita( देश भक्ति कविता ), Desh Bhakti Geet ( देश भक्ति गीत ), Ghazals in Hindi ( ग़ज़ल हिन्दी में ), Our Culture ( हमारी संस्कृति ), Art of Happiness Life ( आनंदमय जीवन की कला ), Personality Development Articles ( व्यक्तित्व विकास लेख ), Hindi and English poems ( हिंदी और अंग्रेजी कवितायेँ ) and more …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *