नागरिक सुरक्षा दिवस – Nagrik Suraksha Divas

नागरिक सुरक्षा दिवस – Nagrik Suraksha Divas

- in शिक्षा - Education
395
0
Nagrik Suraksha Divas in Hindiआनन्दमय जीवन की कला
नागरिक सुरक्षा दिवस हिंदी में
Nagrik Suraksha Divas in Hindi

हर वर्ष 6 दिसंबर (6 December) को नागरिक सुरक्षा दिवस (Civil Defense Day) मनाया जाता है यह दिवस राष्ट्र सेवा के लिए सामान्य नागरिकों (Ordinary citizens) को देश सेवा के लिए उनके अंदर राष्ट्र भावना (National spirit) को प्रेरित करने के लिए मनाया जाता है।

1962 के युद्ध के बाद नागरिक सुरक्षा संगठन (Civil Defense Organization) का गठन किया था। यह दिवस 1965 और 1971 के युद्ध में प्राणों का बलिदान देने वाले शहीदों की याद में तथा आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था (Internal security system) को मजबूत करने तथा प्राकृतिक आपदाओं (Natural disasters) से निपटने के लिए के लिए मनाया जाता है।

विभिन्न प्रकार के प्राकृतिक आपदाओं (Natural disasters) से निपटने के लिए जैसे आग, बाढ़ जैसी बड़ी समस्याओं से लोगों के बीच एकजुट होकर सहायता करना साथ ही साथ दुर्घटना होने पर नागरिक सुरक्षा दल के सदस्य सक्रिय रुप से सबकी मदद करना तथा सब के बीच आपसी प्रेम और सौहार्द (Mutual love and harmony) को बढ़ाते हुए हर स्तर पर सहयोग की भावना को विकसित करना होता है।

भारत-चीन युद्ध (India-China War) के दौरान वह आक्रमण से जहां देश के सैनिक अपने प्राणों की आहुति दे कर देश की सुरक्षा करते हुए दिखाई दिए वही देश की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था (Internal security system) को और भी मजबूत बनाने के लिए नागरिक संगठनों के सदस्यों (Members of civil organizations) ने देश की आंतरिक व्यवस्था को किसी भी प्रकार से नुकसान नहीं होने दिया सन 1968 में एक अधिनियम पारित करके नागरिक सुरक्षा अधिनियम (Civil Protection Act) लागू किया गया जिससे देश की आंतरिक व्यवस्था (Internal security system) मजबूत हो सके।

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (Civil Defense Day) पर सफाई अभियान तथा अन्य देश के नागरिको के हितो से सम्बंधित कार्यक्रमों को बढ़ावा देने के लिए कार्यक्रम आयोजित किये जाते है। इस दिन आग से निपटने के उपायों के बारे में विस्तार से लोगो को बताया जाता है जिससे जरूरत पड़ने पर वह अपनी जिम्मेदारियों (Your responsibilities) का कुशलता से निर्वहन कर सके। इसलिए यह दिवस मनाया जाता है।

– अनमोल ज्ञान इंडिया –

About the author

AnmolGyan.com best Hindi website for Hindi Quotes ( हिंदी उद्धरण ) /Hindi Statements, English Quotes ( अंग्रेजी उद्धरण ), Anmol Jeevan Gyan/Anmol Vachan, Suvichar Gyan ( Good sense knowledge ), Spiritual Reality ( आध्यात्मिक वास्तविकता ), Aarti Collection( आरती संग्रह / Aarti Sangrah ), Biography ( जीवनी ), Desh Bhakti Kavita( देश भक्ति कविता ), Desh Bhakti Geet ( देश भक्ति गीत ), Ghazals in Hindi ( ग़ज़ल हिन्दी में ), Our Culture ( हमारी संस्कृति ), Art of Happiness Life ( आनंदमय जीवन की कला ), Personality Development Articles ( व्यक्तित्व विकास लेख ), Hindi and English poems ( हिंदी और अंग्रेजी कवितायेँ ) and more …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *