नारी शक्ति पर लेख – Articles on Women’s Power

नारी शक्ति पर लेख – Articles on Women’s Power

Nari Shakti Par Kavita Anmol Gyan IndiaThe Art of Happiness Life
नारी शक्ति पर गीत और कविता – Song and Poetry on Women’s Power
:: Mahila Diwas Par Geet in Hindi ::
नारी है नारायणी नारी प्रेमागार।
भुक्ति-मुक्ति का मार्ग है जगती का आधार।
जगती का आधार चंचला दुर्गा काली।
लक्ष्मी वीणापाणि छिन्नमस्ता विकराली।
यश वैभव सुख शान्ति स्नेह दाता है नारी।
‘देशबन्धु’ जग-धात्रि जगन्माता है नारी।
:: नर-नारी – Nar Nari ::
नर नारी से ही यह सृष्टि चली,
फिर सृष्टि से क्या शिकवा व गिला ।
नहिं दे सका और कोई जग में
जितना इससे अपनत्व मिला ।
पहचान सके नहिं शक्ति जो जान लें
होती नहीं अबला महीला ।
इस लोक की बात करें क्या भला
दम से इसके यमलोक हिला ।।
:: जगती में जीवन की पहचान बेटियां हैं ::
जगती में जीवन की पहचान बेटियां हैं,
ईश्वर का अप्रतिम वरदान बेटियां ।
मिलता रहे दुलार और प्यार अपनों का,
प्रतिभा के फूलों का है गुलदान बेटियां ।
त्याग तप धैर्य क्षमा ममता की प्रतिमूर्ति,
स्नेह की सुगन्ध लिये मुसकान बेटियां ।
गौरव दिलातीं हमें, खुद मिट जातीं भले,
इतिहास रहा है रहीं महान बेटियां ।।

– © अखिलेश त्रिवेदी ‘शाश्वत’ –

About the author

AnmolGyan.com best Hindi website for Hindi Quotes ( हिंदी उद्धरण ) /Hindi Statements, English Quotes ( अंग्रेजी उद्धरण ), Anmol Jeevan Gyan/Anmol Vachan, Suvichar Gyan ( Good sense knowledge ), Spiritual Reality ( आध्यात्मिक वास्तविकता ), Aarti Collection( आरती संग्रह / Aarti Sangrah ), Biography ( जीवनी ), Desh Bhakti Kavita( देश भक्ति कविता ), Desh Bhakti Geet ( देश भक्ति गीत ), Ghazals in Hindi ( ग़ज़ल हिन्दी में ), Our Culture ( हमारी संस्कृति ), Art of Happiness Life ( आनंदमय जीवन की कला ), Personality Development Articles ( व्यक्तित्व विकास लेख ), Hindi and English poems ( हिंदी और अंग्रेजी कवितायेँ ) and more …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *