शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है – Shaheed Diwas Kyo Manaya Jata Hai

शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है – Shaheed Diwas Kyo Manaya Jata Hai

Shaheed Diwas Kyo Manaya Jata Hai in Hindiआनन्दमय जीवन की कला
शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है?
Why Martyrs’ Day is celebrated?

23 मार्च को शहीद दिवस क्यों मनाया जाता है? Why Martyrs’ Day is celebrated on 23 March –

वर्ष 1931 में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन (Indian independence movement) के दौरान, अंग्रेजी हुकूमत ने क्रांतिकारी भगत सिंह, राजगुरु तथा सुखदेव (Bhagat Singh, Rajguru and Sukhdev) को 23 मार्च (23 March) को फांसी पर लटका दिया था। इसलिए इन तीनों की शहादत को श्रद्धांजलि (tribute) देने के लिए 23 मार्च को शहीद दिवस (Shaheed Diwas) के रूप में मनाया जाता है।

भारत में कई तिथियाँ है जो शहीद दिवस के रूप में मनायी जातीं हैं, जिनमें मुख्य हैं- 30 जनवरी, 23 मार्च, 21 अक्टूबर, 17 नवम्बर, 19 नवम्बर तथा 27 मई। (30 January, 23 March, 21 October, 17 November, 19 November and 27 May)

30 जनवरी : 30 January –

30 जनवरी, 1948 (30 January, 1948) में नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) ने सत्य और अहिंसा (Truth and non-violence) के पुजारी महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसलिए राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी (Father of the Nation Mahatma Gandhi) की याद में भी शहीद दिवस (Martyrs Day) मनाया जाता है।

21 अक्टूबर : 21 October –

21 अक्टूबर,1959 (21 October, 1959) में लद्दाख के दुर्गम क्षैत्र में भारतीय पुलिस (Indian Police) की एक छोटी टुकड़ी के जवानों ने अपने मातृभूमि की रक्षा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर कर दिये थे इसलिए इन शूरवीरों की स्मृति के लिए 21 अक्टूबर (21 October) को पुलिस शहीद दिवस (Shaheed Diwas) के रूप मनाया जाता है।

17 नवंबर : 17 November –

भारत की आजादी (Independence of India) के दौरान लाला लाजपतराय (Lala Lajpat Rai) एक महान नेता और स्वतंत्रता सेनानी (Leader and freedom fighter) थे। इनकी पुण्यतिथि को मनाने के लिए 17 नवंबर को शहीद दिवस (Shaheed Diwas) के रूप में मनाया जाता है।

19 नवंबर : 19 November –

19 नवंबर को मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के झाँसी में महारानी लक्ष्मीबाई (Queen Laxmibai) के जन्मदिवस को शहीद दिवस (Shaheed Diwas) के रूप में मनाया जाता है।

– @ Anmol Gyan India –

About the author

AnmolGyan.com best Hindi website for Hindi Quotes ( हिंदी उद्धरण ) /Hindi Statements, English Quotes ( अंग्रेजी उद्धरण ), Anmol Jeevan Gyan/Anmol Vachan, Suvichar Gyan ( Good sense knowledge ), Spiritual Reality ( आध्यात्मिक वास्तविकता ), Aarti Collection( आरती संग्रह / Aarti Sangrah ), Biography ( जीवनी ), Desh Bhakti Kavita( देश भक्ति कविता ), Desh Bhakti Geet ( देश भक्ति गीत ), Ghazals in Hindi ( ग़ज़ल हिन्दी में ), Our Culture ( हमारी संस्कृति ), Art of Happiness Life ( आनंदमय जीवन की कला ), Personality Development Articles ( व्यक्तित्व विकास लेख ), Hindi and English poems ( हिंदी और अंग्रेजी कवितायेँ ) and more …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *